Post Thread Post Reply
Thread Rating:
  • 0 Votes - 0 Average
  • 1
  • 2
  • 3
  • 4
  • 5
माधवीभाभी और भिडे मास्टर का सम्भोग - तारक मेहता का नंगा चश्मा
08-19-2012, 10:13 PM
Post: #1
माधवीभाभी और भिडे मास्टर का सम्भोग - तारक मेहता का नंगा चश्मा
माधवीभाभी और भिडे मास्टर का सम्भोग: तारक मेहता का नंगा चश्मा. (हिंदी कथा, हिंदी फॉण्ट में)

तारक-महेता का उल्टा चश्मा के पात्रो पर आधारित एक काल्पनिक सेक्स कथा.
आप यदि SAB TV चेनल पर सोमवार से शुक्रवार रात साडे आठ बजे वो सीरियल देखेंगे तो ये पढ़ने में ओर मजा आएगा.

वैसे आर्थिक रूप से भिडे परिवार की हालत पूरी गोकुलधाम सोसायटी में सबसे कमजोर है, लेकिन जब पति-पत्नी की हेप्पी सेक्स-लाइफ की बात आये, तो उनके जितना सुखी कोई नही, फिर चाहे वो तारक-अंजली, दया-जेठा, रोशन एंड रोशन, हाथी-कोमल या अय्यर-बबिता हो. भिडे मास्टर ज्यादा लकी इसलिए भी है, क्योकि सोसायटी के अन्य मर्दों की तरह उसे ऑफिस, दुकान या गराज में नही जाना पड़ता. और दोपहर के टाइम पे, जब बच्चे स्कुल गए हो तो कोई ट्यूशन क्लासिस भी नही होते, इसलिए हर रोज- दोपहर १२ से शाम ५ तक, वो अपनी बीवी माधवी के साथ, रोमांस ही रोमांस करता है. चूँकि भिडे मास्टर अपनी बीवी की घर के कामो में बड़ी मदद करता है, इसलिए माधवी के दिल और चुत में उसके लिए एक खास जगह है. जितने चुद्दक्कड माधवी और भिडे है, उतने तो गली के आवारा कुत्ते भी नही. ज्यो ही मौका मिला, फट से चुदाई शुरू. लेकिन फिर, पूरा दिन मस्ती करने पर भी मास्टर का दिल नही भरता. रात को जेसे ही सोनू सो जाती है, माधवी-भिडे फिर से चालु हो जाते है. ऐसी ही एक रात का ये किस्सा है..
लोकेशन: मास्टर आत्माराम भिडे का बेडरूम

नीचे का पोस्ट देखो, आगे की स्टोरी के लिए...

Find all posts by this user
Quote this message in a reply
08-19-2012, 10:14 PM
Post: #2
RE: माधवीभाभी और भिडे मास्टर का सम्भोग - तारक मेहता का नंगा चश्मा
तारक महेता के नंगे किस्से: ☻ चम्पकलाल चले C-grade & adult
आपमें से जो लोग तारक महेता का उल्टा चश्मा नियमित रूप से देखते है, वे ही इस सूत्र को फोलो कर पाएंगे की मै क्या बात कर रहा हू.
--------
डोंन राणा: मेने दयाबेन को किडनेप कर लिया ताकि वो चड्डीगेंग के खिलाफ गवाही न दे सके.
जेठालाल: चलो रास्ते का कांटा गया, अब मै बबिता-जी से शादी करूँगा और जमकर चुदाई भी!
तारक: उसके लिए तो जेठालाल तुम्हे डोन् राणा को बोलके ऐय्यर को भी किडनेप करवाना होगा! और हाँ सुंदरलाल को भी किडनेप करवाना होगा.वरना वो अहमदावाद से १०० लोगो को लेके आ जाएगा तुम्हारी पिटाई के लीए और उनकी टेक्सी का भाडा भी तुम्ही को देना होगा!
--------
माधवी: आहो..क्या तुम पूरा दिन कम्प्युटर पे चिपके रहेते हो..ये आचार-पापड की डिलीवरी देके आओ.
मास्टर भिडे: ओफ्फो माधवी, देख नही रही मै इन्टरनेट पे कितनी अप्रतिम नंगी फिल्म देख के मुठ मार रहा हू. अभी नको, एकबार मेरी पिचकारी छूट जाए तब में जाऊँगा ओके?
--------
हाथी:कोमल डिनर रेडी हुआ की नही?
कोमल:ओफ्फो डॉक्टर हाथी आपको खाने के अलावा कुछ सुजता क्यों नही? अभी तो शाम के केवल ५ बजे है.
हाथी:नही कोमल, खाने के अलवा मुझे चुदाई भी सूजती है, लेकिन क्या करू तुम्हारी जांघे इतनी मोटी है की मेरा छोटा लंड तुम्हारी चुत तक पहोंच ही नही पाता!
--------
तारक: अंजली बहोत हुआ, अब मै तीखा-मसालेदार ही खाऊंगा.
अंजली: अच्छा जनाब! तो याद रखो, यदि मेरी डायटिंग प्लान के हिसाब से बनाई सब्जी नही खाओगे तो रात को चोदने नही दूँगी.
तारक: कोई बात नही, मै मुठ मारके सो जाउंगा लेकिन करेले का ज्यूस नही पिऊंगा.
--------
सोढ़ी: ओ मेरी सोणिये देख गोगी भी स्कुल गया है, और मेने गेरेज से छुट्टी ले लिए है..ओ चल साथ मिलके चुदाई की पार्टीशार्टी करे!
रोशन: ना रे बाबा ना...मेरे को घर में बहोत काम हें.
सोढ़ी:तू पिने भी नही देती और चोदने भी नही देती! पता नही किस जन्म का बदला ले रही है?
--------

चले चंपकलाल C-grade movie देखने...

चंपक(स्वगत) बहोत दिनों से मुठ नही मारी, चलो जेठा से मंदिर जाने के बहाना बनाके, कोई घटिया सी-ग्रेड की फिल्म देख के आता हू!
चंपक: जेठा में जरा मंदिर जा रहा हू, चलो जय जिनेन्द्र.

चम्पकलाल किसी रुपाली थियेटर में जाते है, सी ग्रेड की मल्लू फिल्म देखते है लेकिन उसमे केवल आंटी के स्नान के ही सीन है और वे भी कपड़े पहेने हुए. डेढ़ घंटे तक राह देखने के बाद चम्पकलाल धेर्य खो के चिल्लाने लगते है.

चम्पकलाल (अपनी कुर्सी से खड़े होकर): ए भाई, इस थियेटर का मालिक कोन है....अरे कोई आंटी की भोसड़ा दीखता हो एसी मूवी लगाओ. ऐसे स्नानद्रश्य देख के तो मेरा लंड टाईट होने से रहा!
चंपकलाल की बात से अन्य प्रेक्षक भी सहमत होकर हंगामा शुरू करते है.
थियेटर का मेनेजर दोड के आता है- चाचाजी शांत हो जाइए. देखिये अभी हमारे पास ये ही प्रिंट है. इसमें लास्ट के १० मिनिट में आपको आंटी के बोबे दिख जाएंगे.
चम्पकलाल: ए बबुचक, मुझे बोबे देखेने में कोई इंटरेस्ट नही है. मुझे बस चुत चाहिए चुत!!
थियेटर का मेनेजर: देखिये चाचाजी आप बुजुर्ग है इसलिए हम रिस्पेक्ट से बात कर रहे है. आप भी अपनी भाषा पे संयम रखे.
चम्पकलाल: चल जा जा...पहेले बोलना था ना की फिल्म में भोसड़ा-दर्शन का सीन है ही नही.
थियेटर का मेनेजर: तो क्या साफ सुथरी फिल्म देखने जाते हो तो उधर थियेटर वाला पहेले से बोल देता है की फिल्म में क्लाइमेक्स में क्या होगा? हम टिकट बेचने से पहेले फिल्म की कहानी आपको केसे बता सकते है?
चम्पकलाल: ये सब मै नही जानता, या तो तुम दूसरी फिल्म लगाओ या मेरी टिकट के पैसे वापस करो.
थियेटर का मेनेजर: देखिये अब बहोत हुआ. आप चुपचाप फिल्म देखे या चलते बने. वरना...!!
चम्पकलाल: वरना क्या????? धमकी किसको देता है?
थियेटर का मेनेजरअपने हट्टे-कट्टे पहेलवानो को इशारा करता है)
पहेलवान चम्पकचाचा को उठाके बाहर फेंक देते है.
चम्पकचाचा सिनेमा के बाहर खड़े खड़े गालियाँ बकते है. तभी बनवारि उन्हें शांत करता है. बनवारी पास ही के एक कोठे में दल्ले का काम करता है.

बनवारी: अरे चाचाजी क्या हुआ?
चम्पकलाल: देखो ये सिनेमा वाला....साला ढंग की फिल्म नही दिखता, मेरे तो बीस रूपये पानी में गए. आंटी की भोस तो दिखी ही नही.बोबे दिखने के बीस रूपये ले लिए!!
बनवारी: तो आप हमारे साथ चले, ये फिल्म में का रखा है. हम आपको असली भोसड़े के दर्शन करवाते है!! आप एकबार शबनमबाई की भोस के दर्शन कर लीजिए, कभी सिनेमा जाने का नाम नही लेंगे.
चम्पकलालकुछ विचार कर के) लेकिन खर्चा कितना?
बनवारी: वैसे तो ५०० रूपये लेकिन आप सीनियर सिटीजन है इसलिए चलिए ३०० में ही!
चम्पकलाल:लेकिन में तो घर से केवल १०० रूपये ही लेके चला था.
बनवारी:हाँ तो १०० चलेगा.
चम्पकलाल:लेकिन उसमे से ३० रूपये तो रिक्शावाले को यहा आते वक्त दिए.
बनवारी:हाँ तो ७० में ही सही
चम्पकलाल:लेकिन उसमे से २० तो फिल्म की टिकट में चले गए
बनवारी:हाँ तो ५० चलेगा.
चम्पकलाल:उसमे से ३० वापस रिक्शा पकड़ के घर जाने के लिए चाहिए ना?
बनवारी:अच्छा भाई २० में चलो.
चम्पकलाल:क्या?? २० बहोत ज्यादा है. दस रूपये से ज्यादा नही दूंगा. मुझे चाय-नाश्ते के लिए भी तो १० रूपये चाहिए ना?
बनवारी (ये एक तो महंगाई मार गयी है, पिछले तीन दिनों से कोई ग्राहक नही मिला, उपर से पुलिस का हफ्ता. चलो भागते भूत की लंगोटी ही सही)
बनवारी: ठीक है चाचाजी १० रूपये बस! अब चलो...
Find all posts by this user
Quote this message in a reply
08-19-2012, 10:15 PM
Post: #3
RE: माधवीभाभी और भिडे मास्टर का सम्भोग - तारक मेहता का नंगा चश्मा
लोकेशन: मास्टर आत्माराम भिडे का बेडरूम

भिडे मास्टर अपनी मदमस्त वाइफ माधवी की जांघे और बोबे दबा रहा है. माधवी धीरे धीरे सिसकारिया ले भर रही है.

माधवीभाभी: अको बाई, बस अभी बहोत हो गयी बोबा-दबाई, अब ठुकाई का श्रीगणेश करो.
भिडे मास्टर: अरे माधवी ये क्या बेशिस्त बात कर रही हो?? अरे हमारे जमाने में जब हम चुदाई करते तो सबसे पहेले एक-घंटे ऐसे बोबे दबाई करके 'फॉर-प्ले' करते उसके बाद ही...
माधवीभाभी: आहो....अभी मेरे बदन में आग लगी है...चलो चढ़ो ना..जल्दी!!

भिडे मास्टर अपना कुर्ता उपर और पायजामा नीचे करता है, माधवी का गाउन उपर और पेंटी नीचे करता है.

बेडरूम की खिडकी से चांदनी रात प्रकाश, सीधे पलंग पे आ रहा है इसलिए रात के अँधेरे में भी, माधवी की अनुभवी-झांटेदार-रसीली और मादक खुश्बू वाली मराठी भोस साफ़ साफ़ दिख रही है. सोसायटी के बगीचे से आ रही चमेली के फूलो की भीनी भीनी मीठी मीठी खुश्बू और अंदर से माधवीभाभी की चुत की भीनी-भीनी-मीठी-मीठी, मानो पूरा बेडरूम कामरस से भर गया है, ८० साल का चंपक बुढ्ढा भी बिना वियाग्रा खाए टाईट हो जाए ऐसा माहोल है.

भिडे: देवा...शादी के २० साल होने को आये, लेकिन आज भी माधवी तुम्हे देखता हू तो लंड उतना ही फर्राटे से खड़ा हो जाता है, जितना सुहागरात के वक्त हुआ था.
भिडे तुरंत अपना सर माधवी की दो जांघों के बिच डाले के, तबियत से भोस-चटाई शुरू करता है.
माधवीभाभी: अब क्या...अरे मैंने आपको करने के लिए बोला और आप चाटने बेठ गए. अभी पूरा दिन जब मै आचार-पापड बना रही थी, तबभी मेरी साडी में घुसके आप यही कर रहे थे ना..अभी कितना चाटोगे.
भिडे: माधवी,तुम्हारी इस चुत की बात ही ऐसी है. बनानेवाले ने बड़े आराम से बनाई है, चाहे जितना भी इसे चुसू-चाटू मेरा मन ही नही भरता क्या करू??

माधवीभाभी: गप्पा बस..अबी एक सेंकड भी देरी किया न तो अभी के अभी मायके चली जाउंगी.
भिडे: नही नही...ऐसा गजब न करना.

भिडे माधवी की इच्छानुसार मिशनरी पोजिशन में माधवीभाभी पे सवार हो जाता है. माधवीभाभी की कामासक्त चुत पहेले से ही गीली और बेकरार है, भिडे का लंड बिना अवरोध के ठेठ अंदर चला जाता है जेसे मखन में छुरी. साथ ही साथ माधवी के मुंह से एक जबरजस्त फ्रेंच किस करके, अपने होठ, माधवी के होठों के साथ लोक कर देता है.

माधवीभाभी अपनी दोनों जांघे भिडे मास्टर की कमर के उपर भीड़ देती है, जेसे एनेंकोंडा किसी हिरन को दबोचता हो. और अपने दोनों हाथो से माधवीभाभी भिडे मास्टर के कुल्लो को पकड़के भिडे को धक्का देती है, ताकि वो और अंदर तक प्रवेश कर सके. दोनों जेसे जन्नत की सैर कर रहे है, ना ट्यूशन की फ़िक्र न आचार-पापड के ऑर्डर की..बस चुदाई में मग्न है मानो ये जिंदगी की आखरी रात हो.

फच्च-फच्च...कर के भिडे अंदर-बाहर धक्के मार रहा है. माधवी एक के बाद एक ऑर्गेजम में पानी छोड़ रही है, जिससे की धक्को की आवाज ओर बढ़ रही है..
फच्च-फच्च... साथ ही भिडे का 'उनके जमाने' का वो पुराना पलंग, जो की चूं-चूं आवाज कर रहा है.
फच्च-फच्च चूं-चूं
फच्च-फच्च चूं-चूं
फच्च-फच्च चूं-चूं

जेसे कोई erotic ओर्केस्ट्रा बज रहा हो....ऐसी रिधम में चुदाई चालु है.
माधवीभाभी के पुरे बदन में एक मीठा सा दर्द हो रहा है, अंतिम क्षण के वो बेहद करीब है,.. माधवीने अपने दोनों हाथो के नाख़ून, भिडे-मास्टर की पीठ में शेरनी की तरह गडा दिए है. भिडे बिचारा ओरत पे चढा मर्द कम और शेरनी के पंजो में जकडा मेमना ज्यादा लगता है, क्योकि जब सेक्स की बात आती है तो माधवी एक सभ्य-ओरत में से भूखी शेरनी बन जाती है, जिसे रोकना मुश्किल है, जिसकी भूख मिटाए बिना उसके पंजो में से निकलना नामुम्किन है..

माधवीभाभी: हाय देवा....बस थोड़ी देर ओर.
भिडे: माधवी आई लव यु. मै तुम्हारा गुलाम हू, तुम जो बोलोगी वो मैं करूँगा, बिलकुल बंधन के सलमानखान की तरह.
माधवीभाभी: गुलाम आप मेरे तो मै दासी आपके चरणों की. (माधवी सामने से भिडे के होठों पे जबरजस्त फ्रेंच किस करती है)

बस अब दोनों ही चरमसीमा के करीब है. पति तो पुरे हिंदुस्तान के चढते है अपनी बीवियो पर, लेकिन बीवी भी सामने सेक्स में उतना ही इंटरेस्ट ले, ऐसा बहोत कम देखने को मिलता है, भिडे-माधवी भी ऐसे लकी-कपल्स में से एक है.

फच्च-फच्च चूं-चूं
फच्च-फच्च चूं-चूं
फच्च-फच्च चूं-चूं

अचानक .....
माधवीभाभी: हाय दैया.....

बस ये ही वो परम-सुख का क्षण है, अपनी जांघों और हाथो से माधवी एकदम जोर से वो भिडे को जकड लेती है, मानो प्राण ही निचोड़ के ले लेंगी. वो तो मास्टर रोज योग-प्राणायम करते है, इसलिए उनके फेंफडो में इतना दम है, बाकि कोई एरागेरा लौडा हो तो साँस भी न ले पाया, उतनी मजबूत पकड है माधवीभाभी की.

भिडे भी अपनी 'स्कूटर' टॉप-गियर में डालता है, धक्को की स्पीड सुपर फास्ट करता है...और अचानक ही, उसी क्षण स्खलित होता है, जब माधवी झड रही होती है. जेसे सो-मीटर की रेस जित के धावक मैदान पे एक्जोस्ट होके लेट जाता है, मास्टर भी माधवी की छाती पे सर रख के हांफने लगते है, सो जाते है. माधवी उनके सर में ऊँगलीया फेरती है, कंधो को सराहती है, जेसे माँ अपने नवजात शिशु को सुला रही हो, क्योकि वो अब भूखी शेरनी में से वापस एक तृप्त ओरत बन गयी.
और इस तरह एकबार फिर, माधवी और भिडे, खुद भी संतुष्ट होते है, और अपने पार्टनर को भी संतुष्ट करते है. उन्होंने जो किया वो सेक्स नही था, क्योकि 'सेक्स' शब्द का मतलब बड़ा स्थूल है. सेक्स माने लंड का चुत में प्रवेश.
लेकिन जो माधवी और भिडे ने किया, वो सेक्स नही, सम्भोग है: कामशास्त्र में 'सम्भोग' की व्याख्या दी गयी है, सम्भोग माने दोनों साथियो को समान रूप से मिला भोग या आनंद.

इधर माधवी-भिडे के मिलाप समाप्त होता है, उधर गोकुलधाम सोसायटी में दो लोंडे ऐसे भी है, जिनके नसीब में मुठ और केवल मुठ मारना ही लिखा है.
उन दो डेढ़-सयानो में से एक है पत्रकार पोपट लाल, और दूसरे चम्पकलाल. खेर उनके किस्से किसी ओर दिन सुनाऊंगा. आज के लिए बस इतना ही!
Find all posts by this user
Quote this message in a reply
Post Thread Post Reply


Possibly Related Threads...
Thread: Author Replies: Views: Last Post
Wank जेठालाल और दयाबेन की असफल गांड-चुदाई - तारक-महेता का उल्टा चश्मा Sex-Stories 3 25,487 08-19-2012 10:12 PM
Last Post: Sex-Stories



Online porn video at mobile phone


juliastilesnudehot story panty kharda bhen kasex pratigya big gond chudai imegandrea petkovic nakedjabardasti rape bahut Rona porn video priyanka chopra fucking storiesmarin hinkel nudesarmila nudenoirin kelly nutssimone simons nudeWww.bheso ke table me dodh wale bheya se gand marwaliona vilani nudetamala jones toplesscache:Xc9llZDQ5u8J:https://projects4you.ru/Thread-Chanda-ki-Bhari-Jawani+dhakke "lala" "dukan"all family nahat nunni badi hui sax story new hindirocsi diaz nudepriyanka chopra fuckedkellie williams nakeduncle nay mom ki chut pailizita gorog nudenatasha hamilton nudeemily deschanelnudebhai ki lungi khul chukiBehan ne ka mujhe chosolinda lusardi nudemeri chut me sasurji kaa loha jesa lundyana gupta nudealexia fast sextori spelling nude fakesjane goldman nudeblouse me hath dalkar purse nikalacache:FBa4oN-GcmEJ:projects4you.ru/Thread-%E0%A4%AA%E0%A4%A4%E0%A5%8D%E0%A4%A8%E0%A5%80-%E0%A4%8F%E0%A4%95%E0%A5%8D%E0%A4%B8%E0%A4%9A%E0%A5%87%E0%A4%82%E0%A4%9C karri turner nudebonnie jill laflin nakedmy friend insert his hand into my blouse..i wear pink sari he suddenly lick it in dark room ivonne montero sexmastram incest stories nadan sasur naked kahaniasin tamil sex storyjemima rooper toplessemer kenny nudekhule me bahu ki gaand peshb xxw storyindian suhgh rat mechut lenajuhi chawla sex netनामर्द पति ने गांड मरवाई और मुझेभी चुदवायाChudte huye Tatti aa jana sex porn xxxtara palmer tomkinson nakedchaatlomerichoottelugu heroines real sex storiesamisha nangipaula marshal nudewww.chudaye kahaneya budhd bikhare sejill saint john nudemom bathroom ke naharahi thi boy ghush gyasamantha ruth prabhu fuckingChudkad maa ki chudai beta or maa ne khole raaz storymissy peregrym cleavagewww.chut chodwani pare.com wwe melina upskirtemily deschanelnudeKuthi kozhuppo sex videos indian sexstorirsharami beta madarchod incest sexy storifrankie sandford upskirtanabelle acosta nudelucia dvorska nudesasha alexander nude fakesrajskub nudeemily atack nudenudetamannafucked