Current time: 07-19-2018, 08:55 AM Hello There, Guest! (LoginRegister)


Post Thread Post Reply
Thread Rating:
  • 0 Votes - 0 Average
  • 1
  • 2
  • 3
  • 4
  • 5
मिलन की प्यास
11-17-2012, 06:07 PM
Post: #1
मिलन की प्यास
मिलन के गुदा द्वार पर फिसलती जबान उसे मदहोश कर रही थी . इतना स्नेहमय स्पर्श समलिंगी मिलन ने पहले कभी महसूस नहीं किया था . नंगे लेटे गुलाब सिंह के मुख पर मिलन उकड़ूं बैठा था . ज़मींदार गुलाब सिंह कन्या जैसे मुलायम लड़के का यथायोग्य उपयोग कर रहे थे .

"आह... हुकुम, आपका लिंग बेहद मनमोहक है . आह... " मुखाभिगम से हर्षित मिलन श्वासहीन होकर ठाकुर साहब के प्रभावशाली सात-इंची खम्बे को टटोल रहा था . अपने दोनों हाथों से हुकुम का लौड़ा तथा फ़ोता दुह रहा था . मिलन स्वामी के लण्ड की उपरी चमड़ी सरका कर चमकीला सुपाड़ा निहारने लगा . पुरुषत्व से सम्मोहित हो मिलन झुक कर सुपाड़े को चूमने लगा . मरदाना जननांग की कसैली महक समलैंगिक परी की नासिका में छा गई . उन्नत शिश्न के चुम्बकीय आकर्षण का प्रतिरोध अब व्यर्थ था, स्वभावतः मिलन ने सुपाड़ा चाटना प्रारंभ कर दिया .

लौंडे के लपा-लप अंग चाटने से भड़क कर गुलाब सिंह सिर उठा कर मिलन के चूतड़ खंडित कर बीच की कामुक दरार को अपनी राल से और अधिक भिगोने लगे . उत्साहपूर्वक जवाब देते हुए मिलन राजा साहब का मोटा लौड़ा चुस्कियाँ लगा कर चूसने लगा . ठाकुर साहब की दाढ़ी-मूंछ मिलन के नरम कूल्हों को खरोंच रही थी .

समलिंगकामी मिलन अपने पिछवाड़े के बंजर पात्र को वीर्येवान गुलाब सिंह की नलिका से सींचने की लालसा करने लगा . वह ज़मींदार साहब के ऊपर से उठ कर बगल में लेट गया और अपनी टांगें हवा में फैला दीं.

"हुकुम, कृपया मेरे साथ गुदा-सम्भोग कीजिये ." मिलन अपनी गीली लड़कों वाली योनी सुगम्य बना कर मिन्नत करने लगा . गुलाब सिंह ने मिलन की जाँघ संभाली और एक अंगुली उसके मलाशय में भोंक दी . मिलन ने मुस्कुराते हुए अपना आभार जताया . राजा साहब ने थोडा तेल लिया और एक और ऊँगली अंतर्गत कर दी . दो उँगलियों के निवेशन से मिलन की नर-बुर गदगद हो गई . राजा साहब ने अपना लिंग उपयुक्त स्थान पर रखा और जोर लगाने लगे . लेकिन मिलन के कसे हुए पिछले द्वार में प्रवेश पाना मुश्किल था .

"प्यारे तुम हमारा शिश्न-चूषण करो, हम तुम्हारा खज़ाना बाद में लूटेंगे ." लौड़ा न घुस पाने से निराश हो गुलाब सिंह खड़े हो गए . मिलन तुरंत घुटनों के बल खड़ा हो ज़मींदार साहब का शिश्न-चूषण करने लगा .

"बहुत कोमल छोकरा है, आपको कहाँ मिला ?" गुलाब सिंह की धर्मपत्नी रुचिरा कुमारी राजकीय ढंग से अपनी साड़ी लहराती हुई शयनकक्ष में आयीं . बेकपड़ा मिलन ने उनको प्रणाम किया और वापस मुंह से लिंग-उत्तेजना में लग गया .

"इसका नाम मिलन गुप्ता है, सार्वजनिक पुरुष-शौचालय में मर्दों को यौन संबंधों के लिए उकसा रहा था . हम इसे भोगने के लिए अपने साथ घर ले आये . " ठाकुर साहब अपनी पत्नी को विवरण देने लगे . मिलन तेज़ी से मुख आगे-पीछे कर लौड़ा चूस रहा था . वह प्रेम से ऊपर देख अपने बलमा से नज़रें मिला रहा था . कभी-कभी जब खम्बा कन्ठ में लगता तो मिलन का दम घुटता और वह सांस लेने के लिय पीछे होता . मिलन लौड़े को अपने होठों, नाक, गालों और पूरे चेहरे पर मलता हुआ उसपर थूक रहा था . कठोर गन्ने को पकड़ कर अपने मुंह पर थप्पड़ मार रहा था .

"बहुत अच्छे प्रियतम, आप कितने समय से ऐसा स्त्री समान लड़का खोज रहे थे . मैं ससुर जी के घर जा रही हूँ, उन्होंने मुझे वचन दिया था की अपने मित्र कर्नल चौहान के साथ मुझे लूटेंगे ." रुचिरा कुमारी अति प्रसन्न थीं .

गुलाब सिंह मिलन के बाल सहला रहे थे . मिलन अपनी जीभ निकाल कर ठाकुर साहब का सुपाड़ा चाट रहा था . मोटा लिंग मिलन के मुख में दुरुस्त समां रहा था . मिलन चुसाव करते हुए तेज़ी से प्रेमी का हस्त-मैथुन भी कर रहा था . ज़मींदार साहब ने ऊँचे स्वर में श्वास छोड़ी और मिलन के परिश्रम के परिणाम उनकी रति-निष्पत्ति हो गई . चीत्कार मार कर कम्पन करते हुए उन्होंने अपने वीर्ये का फव्वारा मिलन के मुख मंडल पर फैला दिया . मिलन अधिकतम पदार्थ निगल गया और स्खलित तोप को साफ़ करने लगा .

"क्या यह चिकना बधिया हिजड़ा है ? क्या इसे पुरुषोचित उत्थापन होता है ?" रुचिरा कुमारी ने अपने क्लांत पति से पूछा .

"डार्लिंग यह कार्येशील लड़का है, देखो मिलन की लुल्ली उत्तेजना से खड़ी है . चार-इंच ही सही पर लम्बवत्त तो है . यह हिजड़ा नहीं है, देखो इसका अण्डाशय-उच्छेदन कहाँ हो रखा है . " राजा साहब नंगे समलिंगी को पलट कर अपनी पत्नी के सामने प्रदर्शित किया . मिलन लज्जा से लाल हो गया .

"उम..म...म.. सूक्ष्म है पर स्वादिष्ट भी है ." रुचिरा कुमारी झुक कर मिलन की चिपचिपी भिन्डी का स्वाद लेने लगीं . ठाकुर साहब मिलन के उठे हुए निपलों की चिकोटी काटने लगे . मिलन आहें भरने लगा . रुचिरा कुमारी ने अपनी अंगुली मिलन के मलाशय में प्रविष्ट कर दी और मिलन के बालहीन अंडकोष को मुंह में ले कंचे खेलने लगीं .

"अगर आप आज्ञा दें तो मैं मिलन को ससुर जी और कर्नल चौहान के पास ले जाऊं ? वे दोनों इसका और मेरा अच्छे से दुरूपयोग करेंगे . इसके तंग छिद्र को वे दोनों ज़ालिम आपके लिए सुगम बना देंगे ." रुचिरा कुमारी मिलन के गुप्तांग परखते हुए बोलीं .



Celebrity Gossip - Beautiful HD Celebrity Pictures Daily
Bollywood HD Wallpapers
Find all posts by this user
Quote this message in a reply
11-17-2012, 06:07 PM
Post: #2
RE: मिलन की प्यास
"मुझे पता है गांडुओं के साथ कैसे बर्ताव करना चाहिए ." कर्नल चौहान चमड़े की पेटी फटकारते हुए बोले . मिलन फ़र्श पर बिछे गद्दे पर कुतिया बना हुआ था . युवतियों का पहनावा समलैंगिक मिलन पर उपयुक्त लग रहा था . चारखानेदार मिनी-स्कर्ट घोड़ी बने अधनंगे मिलन का यौनाकर्षण बढ़ा रही थी . हरी घाघरा-चोली पहनी रुचिरा कुमारी सज-संवर कर कर्नल के बगल में ऊंची हीलों वाली सैंडल पहने खड़ीं थीं .

"चलो रुचिरा भांजी, गांडू की स्कर्ट उठाओ ." कर्नल चौहान ने आदेश दिया . रुचिरा ने मिलन की मिनी-स्कर्ट चढ़ाई और उसके लड़का-गाण्ड को प्रदर्शित कर दिया . कर्नल मिलन के चूतड़ों पर बैल्ट से कोड़े मारने लगे . मिलन चाबुक की मार का लुत्फ़ लेते हुए चिल्लाने लगा . उसकी नन्ही सी लुल्ली झटके खाने लगी . रुचिरा कुमारी के ससुर सोफे पर बैठे तमाशा देखते हुए अपना लिंग सहला रहे थे . ससुर उठे और शिकार के पास आये .

"अब हमारी बहु के छुपे खजाने को भी तो परखो चौहान ." ठाकुर शमशेर सिंह ने अपनी बहु रुचिरा कुमारी का घाघरा ऊँचा किया और उनकी गोरी मांसल टांगें प्रकट करीं . रुचिरा कुमारी ने तस्मे वाली पैंटी पहनी थी, ससुर जी ने पैंटी के तस्मे का बंधन कर्नल चौहान को हँसते हुए दिखाया . फिर अपनी बहु को मोड़ कर पैंटी से ढके सुडौल नितम्ब दर्शाए . कर्नल चौहान ने रुचिरा कुमारी के कूल्हों पर भी चाबुक धर दिया . बैल्ट की मार ले कर रुचिरा कुमारी शरारती तरीके से तिलमिलाने लगीं .

"यार शमशेर, अपनी बहु से कहो की हमें कामुक नृत्य दिखाए . हमने सुना है की रुचिरा भांजी बहुत अच्छा नाचतीं हैं ." कर्नल चौहान मिलन को कोड़े मारते हुए गुज़ारिश करने लगे . रुचिरा कुमारी ने मुस्कुराते अपना घाघरा गिराया, ससुर को होठों पर चूमा और गाने के सिस्टम में सी.डी. लगाने लगीं .

"देखो गांडू की लुल्ली उत्पीड़न से कैसे तन गई है ." उत्सुक ठाकुर शमशेर सिंह ने देखा की मार खाते हुए मिलन की चार-इंच खड़ी लुल्ली उसकी चढ़ी हुई चारखानेदार मिनी-स्कर्ट के अन्दर उत्तेजित थी .

"पिताजी, मिलन की टहनी का रसज्ञान करके देखिये . मैं दावा करती हूँ की आपको पसंद आएगा . चिंता मत करिए, सामान्य आदमी ऐसे नारी-तुल्य नौजवानों के साथ लैंगिक प्रयोग अक्सर करते हैं ." नाच की तैयारी करती रुचिरा कुमारी अपने ससुर को सुझाव देने लगीं . बड़े ज़मींदार ने अधनंगे मिलन को उल्टा किया और उसके निकट आकर उसका छितरा शिश्न निहारने लगे . कर्नल चौहान सोफे पर बैठ रुचिरा कुमारी के तमाशे की प्रतीक्षा करने लगे .

"तुमने श्रेष्ठ राय दी बहु, हमें इस गांडू की चंचल डाली चखना सुखद लग रहा है ." समलैंगिक मिलन की छोटी सी चार-इंची डंडी को अपने मुंह के भीतर व्यायाम कराकर ठाकुर शमशेर सिंह अति प्रसन्न थे . मिलन मिनी-स्कर्ट पहने आराम से लेटा था, अपने दादा की आयु के पुरुष को अपने कोमल गुप्तांग भेंट कर मज़ा ले रहा था . बड़े राजा साहब छोरे की चिकनी शेव के हुई बालहीन लुल्ली और अंडकोष को अपने मुख में ले, अपनी जीभ से भँवर बनाते हुए स्वाद ले रहे थे . मीठे लौलिपौप की भाँती चमकीली लुल्ली की मौखिक परीक्षा करते हुए ठाकुर की वासना जग रही थी .

फ़िल्मी गाने पर रुचिरा कुमारी ने भड़कीला नृत्य आरम्भ कर दिया . घुमते हुए उन्होंने अपने घाघरे के हुक खोल दिए और अपने बौबकट फैशनी बालों को हिलाते हुए कर्नल चौहान के पास आ गईं . कर्नल ने अपनी नृत्यांगना भांजी का घाघरा पकड़ कर गिरा दिया . पैंटी और चोली पहनी रुचिरा कुमारी संगीत पर लटके-झटके मार कामोत्तेजक नाच करने लगीं . कर्नल चौहान अपना हथोड़ा निकाल कर सहलाने लगे . नर्तकी रुचिरा चर्बीदार नंगी टांगें और ऊँची हील पहने सुन्दर पैरों पर चक्कर लगाने लगीं . फिर ठुमके लगाती हुईं कर्नल के क़रीब आईं और अपनी पैंटी के तस्मे को खींच दिया . पैंटी खुल कर गिर गई और उनके गुप्तांग बेपर्दा हो गए . अर्धनग्न रुचिरा कुमारी चोली पहने नृत्य करते रहीं और अपना एक पैर उठा कर हीलों वाले सैंडल कर्नल चौहान के कठोर लिंग पर मलने लगीं . कर्नल उनकी रोयेंदार नंगी बुर को रगड़ने लगे . जब उत्तेजित बुर घिसाई से गीली हो गई तो कर्नल ने इशारा किया . रुचिरा कुमारी सोफे पर चढ़ गईं और अपना बालों से ढका योनिमुख कर्नल चौहान के चेहरे के सामने घुमाने लगीं . आधी नंगी कामोत्तेजक भांजी की जिस्मानी गंध को कर्नल पशुओं समान सूँघने लगे और ज़बान बढ़ाकर बालदार चूत का रसपान करने लगे . सुड़कती हुई आवाज़ करते हुए कर्नल नितम्बिनी भांजी की भग-चटाई में लग गए . जंघाएँ चौड़ी कर के सोफे पर खड़ी हुईं रुचिरा कुमारी अपनी गरम बुर की गहराई का कर्नल की जीभ से अच्छी प्रकार निरीक्षण करा रहीं थीं . कामोत्तेजित रुचिरा कुमारी ने झुक कर कर्नल का लंड पकड़ा और उस पर धीरे-धीरे बैठने लगीं . कर्नल साहब अपने लंड पर सवार रुचिरा कुमारी की बालदार बुर में अपना लण्ड पेल कर ठोक रहे थे . रुचिरा कुमारी के गोश्तदार नितम्ब थरथरा रहे थे . ऊपर-नीचे, उठक-बैठक करती होती हुई रुचिरा कुमारी सम्भोग में खोयीं थीं . ज़ोरदार धक्कों से रुचिरा कुमारी की समूची देह उछल रही थी . कर्नल के आठ-इंची बरछे के हमले से दूषित होकर वह महीन स्वर में आहें भरने लगीं .

"चौहान, सब्ज़ीवाले की आवाज़ आ रही है . बहु से बोलो की थोड़ी तरकारी ख़रीदले ." बड़े ज़मींदार ने मज़ाक करते हुए कहा . फिर वे समलिंगकामुक चुसाई रोक कर मिलन की भिन्डी और चिकने वीर्येकोष को मुट्ठी में लेकर भींचने लगे .

"उत्कृष्ट विचार है शमशेर ! रुचिरा भांजी, शिश्न-सवारी से अवकाश लो और मेरी क़मीज़ पहन कर तो दिखाओ ." कर्नल चौहान के कहने पर रतिक्रिया करती रुचिरा कुमारी उठीं और चोली के ऊपर क़मीज़ पहनने लगीं . मुस्कुराते हुए वे जल्दी से खिड़की पर गईं और पुकार कर सब्ज़ीवाले को घर के अन्दर आने को कहा . बगल के स्वागत-कक्ष में जा कर रुचिरा कुमारी ने मकान का दरवाज़ा खोला और तरकारी बेचने वाले आदमी को बाहर बरामदे में बैठाया . धूर्त कर्नल और बड़े ज़मींदार कमरे से छुप कर नाटक देखने लगे, समलिंगी मिलन भी उनके साथ ताक रहा था .

"भैया भीतर न आना, मैं अकेली हूँ और अभी-अभी स्नान करके निकली हूँ . मैं बटुआ ढूंढ के लाती हम तुम आधा किलो तुरई और बैंगन तोलो ." रुचिरा कुमारी ने किवाड़ जानबूझ कर थोड़ी खुली छोड़ी और वापस मुड़ कर बटुआ खोजने का अभिनय करने लगीं . चोरी-छिपे कमरे के अन्दर झाँक कर उत्सुक सब्ज़ीवाला दृश्य देख चकित हो गया . हील पहनी रुचिरा कुमारी की सफ़ेद शर्ट लगभग पारदर्शी थी, अन्दर लजीली औरत के जननांग नज़र आ रहे थे . क़मीज़ केवल नाममात्र कूल्हों को छिपा रही थी, मोटी जांघें व चिकनी टांगें निर्वस्त्र थीं . निहारते हुए तरकारी-विक्रेता को नज़रअंदाज़ करती हुई अर्धनग्न गृहणी सम्मोहक अंग-प्रदर्शन कर रहीं थीं . शर्ट की अपर्याप्त लम्बाई में से नंगी बुर पर शोभित काली झांटों का स्पष्ट आभास हो रहा था . क़मीज़ के अन्दर पहनी हुई हरी चोली में बस स्तन महफ़ूज़ थे . यह कामुक नज़ारा देख कर लुंगी पहने सांवले सब्ज़ीवाले की राल टपक रही थी . इतने कार्यक्रम से असंतुष्ट रुचिरा कुमारी घुटने टेक कर मेज़ के नीचे बटुआ ढूँढने का नाटक करने लगीं . पुष्ठभाग चौखट की ओर कर उन्होंने निश्चित किया की सब्ज़ीवाला बेपर्दा चौड़े चूतड़ जी भर कर घूर सके . सब्ज़ीवाला दबे-पाँव अन्दर आया और अपने उकसाए हुए काले लुल्ले को लुंगी से निकाल कर खुबसूरत मकान-मालकिन की गीली बालदार योनी आँखें गड़ा कर देखने लगा . सदाचारिणी महिला ने पलट कर मदहोश भाव में देहाती मज़दूर को देखा . उनकी निगाह उसके फुंकारते हुए काले नाग पर पड़ी . काम वासना में डूब कर वे अपनी बुर को उँगलियों से मलने लगीं . मलिन श्रमिक सोच रहा था की ऐसी निर्मल स्त्री के नंगे लुभावने गुप्तांग तो वह सपने में भी नहीं बजा सकता था . उसकी दृष्टि गोरी-चिट्टी मेमसाब की सुडौल काया पर थी, गुलाबी भारी-भरकम चूतड़, चर्बीदार चिकनी जंघाएँ, हील पहने कमनीय पाँव, हिरनी जैसी लचीली कमर और बीच में बालों की झाड़ी से तांक-झाँक करती सुर्ख लाल चूत . मेमसाब भगोष्ठ की फांकें अपनी उँगलियों से खिला कर नम योनी असभ्य सब्ज़ीवाले को पेश कर रहीं थीं . श्रमजीवी मज़दूर मैले शिश्न को अपनी मुट्ठी में लिए हिला रहा था .

मौका पा कर मिलन झाँकते हुए शमशेर सिंह और कर्नल चौहान के खड़े लौडों की मुठ मारने लगा . मिनी-स्कर्ट पहना गांडू-मिलन घुटनों के बल बैठ गया और कर्नल चौहान का चूत-रस में सना हुआ लंड का सुपाड़ा चाटने लगा . बारी-बारी वह दोनों दोस्तों का शिश्न-चूषण करने लगा . कोमल लड़के से अपने खम्बे चुस्वाते दुष्ट मित्र बैठक में हो रहे स्वांग को छुप कर देख रहे थे .

"भैया अपने डरावने काले डंडे से कुछ करोगे भी या देखते ही रहोगे ! सुनो जल्दी-जल्दी करना जिससे पहले कोई आ जाए ." कुतिया बनीं असंयमी रुचिरा कुमारी ने होंठ भीचते हुए मुड़ कर बोला . विस्मित सब्ज़ीवाला लुंगी उठा कर तुरंत कूल्हों के पीछे स्थापित हुआ और अपना काला लौड़ा झांटों में प्रच्छन्न चूत की पंखुड़ियों पर मलने लगा . सफ़ेद क़मीज़ पहनी रुचिरा कुमारी अपनी भीगी उत्तेजित बुर को उचका कर पीछे धकेलने लगीं . सात-इंची भयानक काला लौड़ा सहजता से एक ही धक्के में प्रविष्ट हो गया . गन्दा सब्ज़ीवाला कोरी सभ्य मालकिन के साथ भका-भक समागम करने लगा . पुख्ता मोटे लुल्ले से चुदवाते हुए रुचिरा कुमारी के गोरे नितम्ब हिलने लगे . कुछ ही पलों में सब्ज़ीवाला रुचिरा कुमारी के शोषित तपते हुए योनिमार्ग में स्खलित हो गया . अपरिचित गंवार मर्द से चुदवाने के उपरान्त अधनंगी रुचिरा कुमारी ने आखिर में तरकारी खरीदी . अपने गुप्तांगों का पर्याप्त इस्तेमाल करा कर आश्चर्यचकित सब्ज़ीवाले को फिर चलता करा .

"मेरी सहवास से भरी हुई स्त्रीन्द्रिय से गिरता देहाती का अशुद्ध बीज कौन साफ़ करेगा ?" नीचे से नग्न रुचिरा कुमारी ने अश्लील प्रश्न किया, और गद्दे पर लेट गईं . उनके ससुर ज़मींदार शमशेर सिंह तुरंत बढे, साथ में समलैंगिक मिलन भी आगे आया . दोनों बारी-बारी से इस्तेमाल की हुई महिला की बच्चादानी को ख़ाली करने लगे . फैली हुई रानों के बीच स्थापित हो कर योनी से रिसता हुआ सब्ज़ीवाले का ताज़ा-ताज़ा गाढ़ा वीर्ये पीने लगे . कर्नल चौहान लेटी हुई भांजी के लबों में जीभ घुसा कर चूमने लगे .

"शमशेर, गांडू छोकरे की लुल्ली चखने के उपरान्त लगता है तुम्हें वीर्ये का स्वाद भाने लगा है . गांडू को साझेदार बनाकर रुचिरा भांजी के जननांग अच्छी तरह पोंछो . अपनी बहु की चाह पुनः जगाओ ताकि हम भी इसके अन्दर अपने शुक्राणु निकालें ." कर्नल ने रुचिरा कुमारी की कमीज़ और चोली खोल कर उन्हें पूर्णतया निर्वस्त्र कर दिया, वह अब केवल कामुक हील पैरों पर पहनी थीं .

थोड़ी देर में समलिंगी मिलन ठाकुर शमशेर सिंह के ऊपर 69 अवस्था में काम-क्रिया करने लगा . ठाकुर और मिलन एक दुसरे की कड़ी जननेंद्रियाँ चूसते-चाटते हुए मस्ती कर रहे थे . फिर बड़े ज़मींदार ने मिलन को पीठ के बल लेटने को कहा, मिनी-स्कर्ट पहने मिलन ने आज्ञा का पालन किया और टांगें उठा कर अपनी नर-योनी ठाकुर साहब को पेश की . साथ में लेटी रुचिरा कुमारी को अब कर्नल चौहान चोदने लगे .

"शमशेर तुम्हारी बहू वास्तव में सच्ची चुदासी है . देखो कैसे अपना सतीत्व ध्वस्त करवा रही है . अब तुम भी लौंडेबाज़ी कर छोरे को भंग करो ." रुचिरा कुमारी की सूजी हुई गीली चूत कर्नल चौहान का ठोस केला बेसब्री से निगल रही थी . काम-क्रिया की चपतों का छप-छप... छप-छप... शोर कमरे में गूँज रहा था . ठाकुर शमशेर सिंह ने भी मिलन के मलाशय में अपना लंड पेल दिया .

"बड़े हुकुम आप इस समलैंगिक की लुल्ली से खेलिए, मेरे निपल काटिए, मुझे चुम्बन दीजिये तो आपको और मज़ा आएगा ." मिलन अपनी गाण्ड में बड़े ज़मींदार का कड़ा छः इंची लौड़ा धारण किये हुए उनका अप्राकृतिक मैथुन की क्रिया में मार्गदर्शन करने लगा . ठाकुर साहब ने वैसा ही किया, मिलन की जिव्हा से अपनी जिव्हा मिला कर कुश्ती करने लगे . उसकी चूचियां काटने और मसलने लगे . उसकी सहवास से तनी हुई भिन्डी हिलाने लगे . मिलन के गरम मलाशय में अपने कठोर लौड़े से प्रहार करते हुए ठाकुर साहब आनंदित थे . गांडू मिलन पीठ पर लेटा टांगें उठा कर अपनी पखाना-निर्गम नली की खुजली शांत करवा रहा था .

"चौहान, इस गांडू का मल-छिद्र यथार्थ तंग है . इसको भोंकते हुए अतिशय आनंद आ रहा है . तुम बहु की रति-निष्पत्ति करो और मैं इस गांडू की करता हूँ ." ठाकुर शमशेर सिंह अपने मित्र कर्नल चौहान को छोरे के साथ गुदा-सम्भोग में मिल रही ख़ुशी की जानकारी देने लगे . कर्नल चौहान चुदासी रुचिरा कुमारी की ठुकाई का लुत्फ़ उठा रहे थे .

Celebrity Gossip - Beautiful HD Celebrity Pictures Daily
Bollywood HD Wallpapers
Find all posts by this user
Quote this message in a reply
Post Thread Post Reply




Online porn video at mobile phone


shreya saran barefeet pickhali chodai gi khana nhi ghai gi xxx video hindi audeo shriya saran hottest pussy lips in whitelisa morales nakedPaise ke liye maa makanmalik pornvideoshanika warren markland nudebaba ne ladki ki bacchedani me land ghusayaboos.bhcna.cusna.sex.vidiochoti umr m boy fraind n meri sil todi desi choot exbiimuth marta huva piriyanka chopara sexy vidiox** aunty ne chodvani Vartaghar ka jimedari samhala to maa sex karne diya storyindain aunty pining gaand me ungali bathbf xxx janaour kidian parkinson nudexxx Bhai bahan Baik se aadhe taste me chudaimalu anty ki gahari nabhikase chodavetraylor howard nudeanna ryder richardson nakedalina vacariu nakedariel meredith nakedchut me lund dalo dhud ko dabao aur chuso chut ku chato storyuna healy upskirthawas vasnaPardosan ki brdi beti ko uske r0om m ch0dasabrina salerno nude picsodia sex story mu 8inch medicine deliDewaro ko pant krny waly ka sexy vediosbiwi ki madad se maa ko chodameghana naidu nudelee ann liebenberg sexlaki ko chot kar posi nakli sexma ki jaberdast chudai mere samne gaon walo ne kiravi ki maa sochti hai lund muth marnawoh sex or xxx jis mai larki ko dard nhi hota & its positionkathy lee crosby nudedanni wells toplessmaa ko bete ne chupke se raat mi chodasarah dumont sexkajal agarwal sex storiesgina carano nipslipहाय री मेरी चूत तूने कितनो का दिल रखाcheryl tweedy nudemonica farro nudeladies tailor sex storiesmaa ko morning walk me uncke ne chodacatherine dent nudeme usehi cudwaungiohhhh ahhh chodar mojabrody dalle nudesonali bendre armpitelle basey nakedgaand chataane ki kahaniOld.aprica.galrssexभैया की लुली को लन्ङ बनायाrani mukherjee upskirtkyra sedgwick fakesholly hagan toplessyancy butler nudeWww.bheso ke table me dodh wale bheya se gand marwannette benning nakedmerichootphaddo.comnupurer choda chodiNanga chutkhanashannendohertynudeakh me patti bnd ke pti se chodibhuathi sexy moviessteffi graf upskirtSHOAIB KI KAHANI USKI ZUBANI (INCEST STORY) carla gallo nudeneetu chandra nipplekd aubert sexko nangi kotte hot picksperizaad zorabian sexmakosi musambasi nudemichela conlin nudesonia braga nudevidha मामी patikot khola नंगाmom ke sath bachan mein razayi ke andarbahan ke chakker me maa chudaiPatient se chudwaana kahaaniManu aur nana ka pariwar chudai novel page 5cinthia moura nudevanessa arias nudetori amos nudechod beta maa ko musal land seincest my son wants my deflated titssimone simons nudeungli karke ler nikalti porn videotumhara lund fir se tayysr haima ka balatkartanusri sexnatalya neidhart nude